Ab Agar Hamase Kudaa_Ii Bhii Khafaa Ho Jaa_E Lyrics – Laila Majnu

The song “Ab Agar Hamase Kudaa_Ii Bhii Khafaa Ho Jaa_E” from the movie Laila Majnu is a famous Song, sung by Mohammad Rafi. The song is composed by Madan Mohan with lyrics written by Sahir Ludhianvi.

Movie: Laila Majnu
Singer(s): Mohammad Rafi
Musician(s): Madan Mohan
Lyrics: Sahir Ludhianvi

Ab Agar Hamase Kudaa_Ii Bhii Khafaa Ho Jaa_E Song Lyrics-Laila Majnu

र : अब अगर हमसे ख़ुदाई भी खफ़ा हो जाए
गैर-मुमकिन है कि दिल दिल से जुदा हो जाए -२
ल : जिस्म मिट जाए कि अब जान फ़ना हो जाए
गैर-मुमकिन है …

जिस घड़ी मुझको पुकारेंगी तुम्हारी बाँहें
रोक पाएँगी न सहरा की सुलगती राहें
चाहे हर साँस झुलसने की सज़ा हो जाए -२
गैर-मुमकिन है …

र : लाख ज़ंजीरों में जकड़ें ये ज़माने वाले -२
तोड़ कर बन्द निकल आएँगे आने वाले -२
शर्त इतनी है कि तू जलवा-नुमाँ हो जाए
गैर-मुमकिन है …

ल : ज़लज़ले आएँ गरज़दार घटाएँ घेरें
खंदकें राह में हों तेज़ हवाएँ घेरें
दो : चाहे दुनिया में क़यामत ही बपा हो जाए
गैर-मुमकिन है …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *