Bhuulii Hu_Ii Sadaa Huun Mujhe Yaad Kiijiye Lyrics – Naghma-E-Dil (Non-Film)

The song “Bhuulii Hu_Ii Sadaa Huun Mujhe Yaad Kiijiye” from the movie Naghma-E-Dil (Non-Film) is a famous Song, sung by Ghulam Ali. The song is composed by \r\n\t

  • Lyricist: with lyrics written by Saghar Siddiqui.
    Movie: Naghma-E-Dil (Non-Film)
    Singer(s): Ghulam Ali
    Musician(s): Bhuulii Hu_Ii Sadaa Huun Mujhe Yaad Kiijiye Song Lyrics-Naghma-E-Dil (Non-Film)

    गुज़र तो जायेगी तेरे बग़ैर भी लेकिन
    बहुत उदास बहुत बेक़रार गुज़रेगी

    भूली हुई सदा हूँ मुझे याद कीजिये
    तुमसे कहीं मिला हूँ मुझे याद कीजिये

    मंज़िल नहीं हूँ ख़िज़्र नहीं राहज़न नहीं हूँ
    मंज़िल का रास्ता हूँ मुझे याद कीजिये

    मेरी निगाह-ए-शौक़ से हर गुल है देवता
    मैं इश्क़ का ख़ुदा हूँ मुझे याद कीजिये

    नग़्मों की इब्तिदा थी कभी मेरे नाम से
    अश्क़ों की इंतिहाँ हूँ मुझे याद कीजिये

    गुमसुम खड़ी हैं दोनों जहाँ की हक़ीक़तें
    मैं उनसे कह रहा हूँ मुझे याद कीजिये

    ‘सागर’ किसी के हुस्न-ए-तग़ाफ़ुल-शआर की
    बहकी हुई अदा हूँ मुझे याद कीजिये

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *