Jo Dil Pe Guzaratii Hai Dikhaa Bhii Nahiin Sakate Lyrics – Dahej

The song “Jo Dil Pe Guzaratii Hai Dikhaa Bhii Nahiin Sakate” from the movie Dahej is a famous Song, sung by Jayshree. The song is composed by Vasant Desai with lyrics written by Shams Lakhnavi.

Movie: Dahej
Singer(s): Jayshree
Musician(s): Vasant Desai
Lyrics: Shams Lakhnavi

Jo Dil Pe Guzaratii Hai Dikhaa Bhii Nahiin Sakate Song Lyrics-Dahej

Each sher is rendered slowly first followed by normal pace in the same<ब्र/>style as shown for the first sher
जो दिल पे गुज़रती है दिखा भी नहीं सकते
और चाहे सुनाना तो सुना भी नहीं सकते
जो दिल पे गुज़रती है (दिखा भी नहीं सकते) -२
और चाहे सुनाना तो (सुना भी नहीं सकते) -२

होंठों पे हाँसी आए तो (रो देतीं हैं आँखें) -२
ग़म इतने सहे हैं के (भुला भी नहीं सकते) -२
जो दिल पे गुज़रती है …

जलता है जिगर और (मज़ा लेतें हैं शोले) -२
ये आग है उल्फ़त की (बुझा भी नहीं सकते) -२
जो दिल पे गुज़रती है …

आँखों में चुपायें हैं (मुहब्बत के दो आँसूं) -२
डर ये है न खो जायें (बहा भी नहीं सकते) -२
जो दिल पे गुज़रती है …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *